Doston Se Dushman Acche

दोस्तो से दुश्मन अच्छे, जल कर नाम तो लेते है
फूलों से काँटे अच्छे,  जो दामन  थाम  तो लेते है

Dosto   Se   Dushman   Acche,  Jalka r Naam  To  Lete  Hai
Phoolon Se Kaante Acche, Jo Daaman Thaam To Lete Hai

Agar Yakin Nahi Ata To Aazmaye Mujhe

अगर यकिन नही आता तो आज़माये मुझे
वो आईना है तो फिर, आई ना दिखाये मुझे
अजब चिराग़ हूँ  दिन-रात  जलता रहता हूँ
मै थक गया हूँ,  हवा  से कहो  बुझाये  मुझे

Agar  Yaqin  Nahi  Aata   To   Azmaye   Mujhe
Wo Aaina Hai To Phir, Aaina Dikhaye  Mujhe
Ajab Chirag Hun,  Din-Raat  Jalta .
Read More.

Jab Mayusi Dilon Pe Chha Jati Hai

जब    मायूसी     दिलों    पे    छा   जाती  है
दुश्मन   से   भी   तेरा    नाम  जपवाती   है
मुमकिन है कि सुख में भूल जाएँ अतफ़ाल
लेकिन  उन्हे  दुख  में  माँ  ही याद आती है

Jab   Maayusi    Dilon   Pe    Chhaa   Jati    Hai
Dushman .
Read More.