Doston Se Dushman Acche

दोस्तो से दुश्मन अच्छे, जल कर नाम तो लेते है
फूलों से काँटे अच्छे,  जो दामन  थाम  तो लेते है

Dosto   Se   Dushman   Acche,  Jalka r Naam  To  Lete  Hai
Phoolon Se Kaante Acche, Jo Daaman Thaam To Lete Hai

Aziz Itnahi Raho Ke

अज़ीज़  इतना  ही  रखो  के  दिल  बहल  जाए
अब इस क़दर भी न चाहो के दम निकल जाए

Aziz Itnahi Rakho Ke Dil bahal Jaye
Ab Is Qadr Bhi Na Chaho Ke Dam Nikal Jaye

~Ubaidullah Aleem